Sunday, February 17, 2013

दिल ने लिखा



समुन्दर की रेत पर लिखा,
लहरें आई और धो गई;
रेत का दोष इसमे कैसे,
दिल ने ग़लत जगह लिख था।


सजन

No comments:

Post a Comment